Breaking

Wednesday, June 10, 2020

तुम प्रेम हो तुम प्रीत हो - Tum Prem Ho Tum Preet Ho Lyrics - Mohit Lalwani

तुम प्रेम हो तुम प्रीत हो - Tum Prem Ho Tum Preet Ho Lyrics - Mohit Lalwani
बहुत ही सुन्दर भजन हैं जिसे सुनकर आप भाव विभोर हो जायेंगे ऐसे ही बहुत सारे भजनो का संग्रह हैं भक्तिगाने में मिलेगा , खुद भी सुने और दुसरो को भी सुनाये और साथ में शेयर कर हमें सहयोग प्रदान करे|

तुम प्रेम हो तुम प्रीत हो - Tum Prem Ho Tum Preet Ho Lyrics - Mohit Lalwani

तुम प्रेम हो तुम प्रीत हो - Tum Prem Ho Tum Preet Ho Lyrics - Mohit Lalwani

Song Details:
Title: तुम प्रेम हो तुम प्रीत हो Tum Prem Ho Tum Preet Ho
Album Name: Tum Prem Ho Tum Preet Ho
Lyrics Writter: PRAVENDRA KUMAR
Singer Name: Mohit Lalwani
Publishing Year: 2020

तुम प्रेम हो तुम प्रीत हो - Tum Prem Ho Tum Preet Ho Lyrics in Hindi

तुम प्रेम हो तुम प्रीत हो मेरी बांसुरी का गीत हो,
तुम प्रेम हो तुम प्रीत हो मन मीत हो मेरी राधे,
तुम प्रेम हो तुम प्रीत हो मेरी बांसुरी का गीत हो,
हु मैं यहाँ तुम हो वहा राधा,
तुम बिन नही है कुछ यहाँ,
मुझमे धडकती हो तुम्ही तुम दूर मुझसे हो कहा,
तुम प्रेम हो तुम प्रीत हो ……
परमात्मा का स्पर्श हो,
पुलकित हिर्ध्ये का हर्ष हो,
तुम हो समपर्ण का शिखर,
तुम ही मेरा उत्कर्श हो,
तुम प्रेम हो तुम प्रीत हो ……
हु मैं यहाँ तुम हो वहा राधा,
तुम बिन नही है कुछ यहाँ,
मुझमे धडकती हो तुम्ही तुम दूर मुझसे हो कहा,
तुम प्रेम हो तुम प्रीत हो ……
परमात्मा का स्पर्श हो,
पुलकित हिर्ध्ये का हर्ष हो,
तुम हो समपर्ण का शिखर,
तुम ही मेरा उत्कर्श हो,
तुम प्रेम हो तुम प्रीत हो ……

 DriftingWood Sheesham Wood Writing Study Table for Home and Office with Chair | Study Desk | Natural Brown Finish



Watch This Song:-


No comments:

Post a Comment

Pages